Digital MarketingWeb Developer

वेब डेवलपर कैसे बनें | Web Developer kaise bane

Share Now

नमस्कार दोस्तों आपका एक बार फिर से स्वागत है हमारे वेबसाइट Hindi Top पर दोस्तों,आजकल टेक्नोलॉजी इतनी बढ़ गई है कि अगर हम किसी भी चीज की जानकारी पाना चाहते हैं तो हम सिर्फ गूगल करते हैं और वह सारी जानकारी हासिल कर लेते हैं। इसके साथ ही आपको यह भी पता होगा कि यह सारी जानकारी Google पर विभिन्न प्रकार की वेबसाइटों के माध्यम से प्रदर्शित होती है। क्या आप जानते हैं कि ये सभी वेबसाइट कौन बनाता है? और इसे बनाने वाले को क्या कहते हैं,

दरअसल, इन सभी वेबसाइटों को एक वेब डेवलपर द्वारा ने बनाया जाता है। आजकल के मार्केट में एक वेब डेवलपर की बहुत मांग है, तो आइए जानते हैं कि वेब डेवलपर कैसे बनें और  वेब डेवलपर बनने के लिए क्या-क्या करना पड़ता है तो दोस्तों बने रहिए हमारे साथ इस आर्टिकल के अंत तक।

वेब डेवलपर क्या है?

आज के समय में इंटरनेट पूरी दुनिया पर राज कर रहा है। पूरी दुनिया में अपनी ऑनलाइन पहुंच बढ़ाने के लिए सभी कंपनियां वेबसाइट का उपयोग कर रही हैं। कोई तो इंसान होगा जो सभी वेबसाइटों को बनाता होगा, उसी इंसान को वेब डेवलपर कहा जाता है जो विभिन्न कोडिंग भाषाओं का उपयोग करके वेबसाइट बनाता और डिज़ाइन करता है। मुख्य रूप से वेबसाइट बनाने से लेकर उसके संपूर्ण प्रबंधन तक वेब डेवलपर का काम होता है। वेब डेवलपर बनने के लिए वेब डेवलपमेंट सीखना होगा। और BCA, MCA जैसे कोर्स करके आप वेब डेवलपर के तौर पर अपने करियर को एक अच्छी दिशा दे सकते हैं। आने वाले समय में इसकी मांग और बढ़ने वाली है।

वेब डेवलपर कैसे बनें

वेब डेवलपर बनने के लिए, आपको पहले किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से माध्यमिक (10 + 2) पास करना होगा। साथ ही अंग्रेजी भाषा पर भी ध्यान देना होगा। क्योंकि प्रोग्रामिंग अंग्रेजी भाषा में होती है। बारहवीं पास करने के बाद आपको वेब डेवलपमेंट का कोर्स करना होगा।

बारहवीं पास करने के बाद BCE (कंप्यूटर साइंस) का कोर्स करना होता है। इसमें वेब डेवलपमेंट सिखाया जाता है। इसके अलावा वेब डेवलपर बनने का एक और विकल्प भी है। (10 + 2)  पास करने के बाद बीएससी (Computer Science), बीकॉम (CS) या बीसीए से स्नातक होना चाहिए। इसके बाद आप MCA/MBA IT कोर्स कर सकते हैं।

वेब डेवलपर कितने प्रकार के होते हैं

मुख्य रूप वेब डेवलपर तीन प्रकार के होते हैं, जो इस प्रकार हैं:-

1. फ्रंट एंड डेवलपर ( Front and Developer)

इस प्रकार का वेब डेवलपर वह होता है जो क्लाइंट के अनुसार वेबसाइट बनाता है और कोडिंग की मदद से इस निर्माण या संशोधन को करता है। उन्हें प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की पूरी जानकारी होती है। हम उन्हें वेब डिज़ाइनर भी कह सकते हैं, क्योंकि वे वेबसाइट को। बनाने व निर्माण करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। जैसे: वेबसाइट का रंग, साइज, वेब पेज डिजाइन, फ्रंट डिजाइन, लिमिट, एलिमेंट्स, आदि।

2. बैक-एंड डेवलपर( Back and Developer)

उनका काम फ्रंट-एंड डेवलपर की तुलना में अधिक कठिन है क्योंकि वे क्लाइंट के लिए काम नहीं करते बल्कि सर्वर के साथ समझौते में काम करते हैं। वे ऐसे प्रोग्रामिंग कोड बनाते हैं, जो वेबसाइट के डेटाबेस और सर्वर को सख्त कर सकते हैं। यह SEO के हिसाब से अपना काम करता है। ताकि आप वेबसाइट को डेवलप करने में मदद कर सकें।

यह वेबसाइटों की गति बढ़ाने और सामग्री की रैंकिंग करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। वे वेबसाइट के डेटाबेस और सर्वर को मजबूत करने और उन्हें सही जगह पर रखने का काम करते हैं। इनकी मदद से वेबसाइट डेवलपमेंट का काम होता है।

3. फुल स्टैक डेवलपर ( Full Stack Developer)

यह एक फ्रंट-एंड और बैक-एंड डेवलपर है। वे वेबसाइट भी विकसित करते हैं और अपनी संरचना में बदलाव भी कर सकते हैं। इस प्रकार के डेवलपर्स बाजार में काफी मांग में हैं। बड़ी आईटी कंपनियां ऐसे डेवलपर्स को हायर करती हैं और अच्छी खासी इंकम का भुगतान करती हैं। ऐसे डेवलपर बड़ी वेबसाइटों के लिए काम करते हैं। क्योंकि उन्हें वेब डेवलपमेंट से जुड़े हर तरह के काम का अनुभव होता है।

वेब डेवलपर बनने की योगिताए

  • यदि आप भी एक वेब डेवलपर बनना चाहते हैं, तो आपकी योग्यता कम से कम 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण होनी चाहिए, निश्चित रूप से आर्ट्स, साइंस या कॉमर्स में 12वी पास होना चाहिए।
  • 12वीं के बाद कई विश्वविद्यालय ऐसे कोर्स कराते हैं जहां आप वेब डेवलपमेंट से जुड़े कोर्स कर सकते हैं।
  • आप किसी भी निजी संस्थान से वेब डेवलपमेंट कोर्स भी कर सकते हैं, कुछ संस्थान हैं जो आपको ये कोर्स प्रोफेशनल रूप से प्रदान करते हैं, आपको ये आपके शहर में ही मिलेंगे, हां, आपको इन संस्थानों का चयन उनके स्टाफ और योग्यता को देखकर ही करना चाहिए।
  • 12वीं के बाद आप बीई कंप्यूटर साइंस में भी जा सकते हैं, उनके फाइनल ईयर में वे आपको वेब डेवलपमेंट का एडवांस कोर्स देते हैं।
  • 12 के बाद आप बीएससी कर सकते हैं। ये कंप्यूटर साइंस में भी जा सकते हैं (यदि आपने इसे 12वीं साइंस स्ट्रीम से किया है) उसके बाद आप BSC और MCA में जा सकते हैं।
  • 12वीं साइंस स्ट्रीम के बाद आप बीटेक भी कर सकते हैं, इसमें आप वेब डेवलपमेंट कोर्स भी कर सकते हैं।
  • कॉमर्स फैकल्टी के लिए 12वीं के बाद आप बीकॉम कंप्यूटर साइंस भी कर सकते हैं, उसके बाद आप एमबीए आईटी भी कर सकते हैं।
  • फैकल्टी ऑफ आर्ट 12 के बाद आप बीसीए भी कर सकते हैं जो कि 3 साल का कोर्स है। उसके बाद आप यह कोर्स एमसीए और एमबीए आईटी के तहत कर सकते हैं

वेब डेवलपमेंट का कोर्स कैसे करें

अगर आप ग्रेजुएशन की पढ़ाई नहीं करना चाहते हैं, तो आप बिना ग्रेजुएशन के वेब डेवलपर बनना चाहते हैं। तो आपको 12 पास करने के बाद एक वेब डेवलपमेंट कोर्स करना होगा। कोई भी बिना ग्रेजुएशन के वेब डेवलपमेंट कोर्स करके वेब डेवलपर/वेब डिज़ाइनर बन सकता है।

  • HTML: यदि आप वेब डेवलपमेंट सीखना चाहते हैं, तो आपको HTML सीखना होगा। यह एक कंप्यूटर भाषा है। इसमें वेबसाइट कैसे बनती है, इसके बारे में बताया गया है। वेब डिज़ाइनर बनने के लिए आपको HTML सीखना होगा।
  • CSS: यह एक भाषा है। इसका पूरा नाम Client Site Scripting Language है। इस भाषा में कोडिंग सिखाई जाती है। कोड सीखने में काफी मेहनत लगती है। वेबसाइट बनाने के लिए कोडिंग का ज्ञान आवश्यक है।
  • Java script : वेब डेवलपर बनने के लिए Java Script भाषा सीखनी होगी। इस भाषा को सीखने के लिए आपको Java Script का कोर्स करना होगा।
  • PHP: PHP का पूरा नाम हाइपरटेक्स्ट प्री प्रोसेस है। यह एक शक्तिशाली सर्वर-साइड स्क्रिप्टिंग भाषा है। इस भाषा को सीखने में काफी समय लगता है। समय के साथ आपको कड़ी मेहनत करनी होगी।

वेब डेवलपमेंट के कॉलेज

  • Delhi Technology University
  • Chandigarh University
  • Amity University
  • Lovely Professional University
  • Anna University
  • Banaras Hindu University
  • Vellore Institute of Technology
  • NIMS University

ये कुछ ऐसे कॉलेज हैं जो भारत में वेब डेवलपमेंट कोर्स करवाते हैं जहां से आप वेब डेवलपमेंट सीख सकते हैं और वेब डेवलपर बन सकते हैं।

वेब डेवलपर बनने के फायदे

  • जैसा कि हमने आपको बताया, आधुनिक युग इंटरनेट का युग है, यानि अगर हम आज किसी भी प्रश्न का उत्तर चाहते हैं, तो हम सीधे इंटरनेट पर खोज करते हैं और हमें उसका उत्तर भी मिल जाता है। आजकल बड़ी-बड़ी कंपनियां अपने ब्रांड और प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए वेबसाइटों पर अपने विज्ञापन पोस्ट करती हैं।
  • इन विज्ञापनों को प्रदर्शित करने वाली वेबसाइटें हजारों रुपये कमाती हैं। आप भी घर बैठे इस पेशे से हजारों लाख रुपये कमा सकते हैं। इसके अलावा आप कई आईटी कंपनियों में काम करके अच्छी सैलरी पा सकते हैं।
  • अगर आप एक वेब डेवलपर हैं तो आप ऐसी वेबसाइट बना सकते हैं। एक जो आपको प्रसिद्ध बनाएगा और आपके अनुभवों और कौशल को बढ़ावा देगा। यह एक अच्छी इनकम कमाने का एक शानदार तरीका है।
  • उनकी मदद से आप अपने ज्ञान और अनुभवों का उपयोग करके वेबसाइट बना सकते हैं और लोगों के साथ साझा कर सकते हैं। ताकि आपके ज्ञान से दूसरे लोगों को फायदा हो और आप बदले में पैसे कमा सकें। यह एक बेहतरीन बिजनेस है जहां आप एक महीने में 2 से 15 लाख तक कमा सकते हैं।

वेब डेवलपर क्यों बनना चाहिए

वेब डेवलपर वे पेशा हैं जो वेबसाइट की कार्यक्षमता की परवाह करते हैं, वेब डिज़ाइनरों के विपरीत जो वेबसाइट का रंग, साइज, वेब पेज डिजाइन, फ्रंट डिजाइन, लिमिट, एलिमेंट्स, आदि मुद्दों की परवाह करते हैं। हालांकि, यहां तक कि एक बहुत अच्छे वेब डेवलपर के पास भी ऐसी साइट डिजाइन करने की क्षमता हो सकती है। हर गुजरते साल के साथ, इंटरनेट बड़ा होता जाता जा रहा है,

अधिक से अधिक लोग ऑनलाइन हो रहे हैं और अधिक से अधिक व्यवसाय बड़े पैमाने पर हो रहे हैं, वेब डेवलपर बनने का प्रोत्साहन और भी अधिक है। और आज जिस तरह से इंटरनेट डेवलपर हो रहा है, वह यह है कि हर कोई अब इंटरनेट से काम कर रहा है, उसी चीज को देखते हुए, वेब डेवलपर की मांग भी बहुत बढ़ रही है, इसलिए आज वेब डेवलपर बनना सही है।

निष्कर्ष

ठीक है, इसलिए एक बार जब आप इन छह चरणों का अनुभव करते हैं, तो आपको वेब सुधार की अनिवार्य समझ होगी। आपको एहसास होगा कि यह कैसे करना है । इन प्रगति के साथ अपना अनुभव बनाएं – वेब डेवलपर्स के लिए रुचि शीघ्र ही किसी भी बिंदु पर नीचे नहीं जा रही है, इसलिए आपके पास सीखने का अवसर है।


Share Now

Shivam Kumar

I m passionate about working with you and I also have work experience which reduce my mistake in working with you as I m a good learner . I am always interested in creative writing which make me moldable towards my work and write about many Bite such as entertainment, sports, political, crime, and many more . Not only this I am also a professional artical writer and many of my articals and blogs (in hindi ) and many of my articles have being published with my own written headline

Related Articles

Leave a Reply