ट्रेन का आविष्कार किसने किया और कब किया ?

Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नमस्ते दोस्तों, हमारे आर्टिकल Hindi Top में आपका स्वागत है। आज हम आपको हमारे आर्टिकल में “ट्रेन का आविष्कार किसने किया” इसकी जानकारी देंगे। अगर आप सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे है या कोई कॉम्पिटिटिव परीक्षा लिखने वाले है तो यह सवाल काफी बार पूछा जाता है की ट्रेन का आविष्कार किसने किया। तो हमारे आर्टिकल में आपको इसकी जानकारी हम बताएंगे। आप सभी ने ट्रेन का सफर तो किया ही होगा। हर देश में ट्रेन चलते है और लोगो के लिए यह वरदान से कम नहीं है।

आम इंसान के लिए ट्रैन का सफर काफी लाभदायक है क्यूंकि इसमें सफर करना इतना महंगा नहीं है। हम रोजभरी ज़िन्दगी में ट्रैन के जरिये अपने गाओ, अपने काम, दूसरे शहर का सफर तय करते ही है। यह वाहन अन्य वाहनों जैसे एयरोप्लेन, कार, टैक्सी के भाति कम खर्च और अपने नियमित समय पर हमारी यात्रा प्रतिपूर्ण करता है। आज के रेलयात्रा भारत देश में लगभग करोड़ों लोग हर रोज़ ट्रैन में सफर करते है। इसके अलावा रोज़ करोडो टन माल ट्रैन के जरिये एक शहर से दूसरे शहर पहुँचाया जाता है। आधुनिक ट्रैन आज के दौर में काफी बदल गई है

पहले समान्य ट्रेन हुआ करते थे लेकिन आज के दौर में मेट्रो ट्रेन, बुलेट ट्रेन आ गई है जो लगभग 500 किलोमीटर प्रति घण्टे की तेज़ी से चलती है। आपको तो पता ही होगा रेल नेटवर्क में हमारा भारत विश्व में चौथे नंबर पर है।

ट्रेन का आविष्कार किसने किया | Train ka Avishkar kisne kiya

पहली भाप ट्रैन यानि स्टीम इंजन ट्रेन का आविष्कार साल 1804 में यूनाइटेड किंगडम में रहने वाले इंजीनियर रिचार्ड ट्रेविथिक ने 21 फरवरी को बनाई थी, यह इंजन इतनी सफल नहीं हो पाई। इसके बाद कई सारे इंजीनियर्स इनके डिज़ाइन से प्रेरित होकर ऐसे ही इंजन को बनाने के प्रयास में लग गए।

कुछ सालों बाद इंग्लैंड के इंजीनियर जॉर्ज स्टीफेंसन ने 27 सितम्बर साल 1825 में पहला सफल स्टीम इंजन ट्रेन का निर्माण किया था। यह ट्रैन 24 किलोमीटर प्रति घंटे के रफ़्तार में चलती थी। इसलिए जॉर्ज स्टीफेंसन को ट्रैन का जनक भी कहा जाता है।

ट्रेन का इतिहास क्या है ?

सबसे पहला ट्रेन बनाने का शुरुवात साल 1604 में इंग्लैंड में की गई थी। उस समय लकड़ी से डिब्बों को घोड़ो से खींचा जाता था।

बाद में साल 1804 में रिचार्ड ट्रेविथिक द्वारा पहला भाप पर चलने वाला इंजन ट्रेन बनाया गया था और उन्होंने इस ट्रेन को कई दुरी तक चलाई भी थी।

साल 1814 में जॉर्ज स्टीफेंसन ने स्टीम इंजन का निर्माण किया जो काफी सफल रेलगाड़ी बनी और जॉर्ज ने पेटेंट अपने नाम कराली थी और इसलिए इन्हे ट्रेन का जनक माना जाता है।

साल 1837 तक सारी ट्रेन स्टीम यानि भाप से चलती थी, उस समय कोयले का इंजन में उपयोग किया जाता था

साल 1937 में रोबर्ट डैविडसन नामक इंजीनियर ने अपने प्रयोग से पहला ट्रेन बनाया जिसमे बिजली और बैटरी का उपयोग कर ट्रेन को चलाया जाता था। इसके बाद नए नए बदलाव और आविष्कार होते रहे और कई प्रकार की ट्रेनें बनाई गई थी।

साल 1912 में स्विट्ज़रलैंड में पहला इंजन बनाया गया था जो डीजल से चलती थी।

भारत में ट्रैन की शुरुवात कब हुई थी ?

जब भारत में अंग्रेजी शासन चला उस समय अंग्रेज़ों ने रेलवे का आयोजन भारत में किया था। उसके बाद 16 अप्रैल 1853 में मुंबई से ठाणे के बिच सबसे पहली रेल यात्रा जनता के लिए चलाई गई। यह रेल लाइन 21 मिल लम्बी थी और इस रेल में 400 लोगों ने सफर किया। इस ट्रैन में दो इंजन लगाईं गई थी और यह प्रवास यात्रा काफी सफल रही

उस समय ट्रेन पर सफर करने के लिए किराया 2 रूपए मुंबई से ठाणे तक रखी गई थी। बाद में साल 1853 में पहला पूर्व रेल ट्रांसपोर्ट खोला गया था जहां भारतीय रेल औपचारिक समारोह का उट्घाटन किया गया था। भारत में रेलवे लाइन का नेटवर्क इतनी तेज़ी से विकसित हुआ की साल 1880 तक लगभग 9000 मिल तक भारतीय रेल प्रणाली फ़ैल गयी।

ट्रेन से जुड़े कुछ रोचक तथ्य ?

  • साल 1837 में बिजली से चलने वाली पहली ट्रेन का निर्माण स्कॉटलैंड के इंजीनीर रोबर्ट डेविडसन ने किया था
  • साल 1832 में रेलगाड़ी के ट्रैक बदलने वाली रेलरोड स्विच का आविष्कार इंग्लैंड के इंजीनियर चार्ल्स फॉक्स ने किया था।
  • साल 1883 में पहली इलेक्ट्रिक ट्रेन का संचालन किया गया था और यह इंग्लैंड के ब्रिटेन शहर में बनाई गई थी , वॉक इलेक्ट्रिक रेलवे दुनिया की सबसे पुराणी इलेक्ट्रिक रेलवे है।
  • साल 1912 में, स्विट्ज़रलैंड में सबसे पहला डीजल से चलने वाला ट्रेनों का निर्माण किया गया था।
  • इंग्लैंड का स्कर्ने ब्रीदेगे दुनिया का सबसे पहला ब्रिज है।
  • साल 1872 में अमेरिकन इंजीनियर जॉर्ज वेस्टिंगहाउस ने ट्रेन में लगने वाली ब्रेक सिस्टम का निर्माण किया था
  • विश्व की सबसे रफ़्तार वाली ट्रेन का निर्माण साल 1964 में ओसाका शहर जापान में की गई थी। इस ट्रेन की गति लगभग 165 किलोमीटर प्रति घंटा है।
  • भारत की रेल नेटवर्क चौथे नंबर पर आता है, जो की 67,368 किलोमीटर मार्ग की लम्बाई है। भारत में लगभग 13,452 यात्री ट्रेनें और 9,141 माल गाड़ियां है।
  • भारत की विवेक एक्सप्रेस ट्रेन हमारे देश की सबसे लम्बी सफर करने वाली ट्रेन है, जो डिब्रूगढ़ से कन्याकुमारी तक चलती है और लगभग 4286 किलोमीटर चलती है।

ट्रेन से जुड़े कुछ FAQ

भारत में विद्युत् रेल कब चलाई गई थी ?

3 फरवरी साल 1925 को भारत में सबसे पहली बिज़नेस रेलगाड़ी मुंबई स्टेशन और कुर्ला स्टेशन के बीच चलाई गयी थी।

बुलेट ट्रैन का आविष्कार किसने किया ?

बुलेट ट्रैन का आविष्कार साल 1998 में जापानीज इंजीनियर शिमा हिडिओ ने किया था।

निष्कर्ष [ Train ka Avishkar kisne kiya ]

रेलगाड़ी यानि ट्रेन हमारे देश की आर्थिक व्यवस्ता के लिए भी काफी लाभदायक है क्यूंकि भारत में लगभग 65 % लोग रोज़ ट्रैन से सफर करते है और ट्रेन हमारे आधे से ज्यादा जनसँख्या को रोज़गार प्रदान कर रहा है। सिर्फ भारत नहीं लगभग सभी देश में ट्रेन की डिमांड काफी है।

हमारे आर्टिकल में अंत तक जुड़े रहने के लिए धन्यवाद्। हमें आशा है की आपको हमारे यह आर्टिकल “ट्रेन का आविष्कार किसने किया” से काफी लाभ हुआ हो। इसी तरह हमारे Hindi Top वेबसाइट पर आपको नए जानकारियां और न्यूज़ मिलती रहेंगी, आप हमारे साथ जुड़े रहिएगा।


Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply