BiographyCricket Players Biography

प्रियांक पांचाल का जीवन परिचय | Priyank Panchal biography in Hindi

Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हेल्लो दोस्तों कैसे हो आप सभी आज आप जानेगे प्रियांक पांचाल का जीवन परिचय ( Priyank Panchal biography in Hindi )अगर आप उनके बारे में अच्छे से जान ना चाहते हो हमारा यह आर्टिकल जरुर पढ़े

Priyank Panchal biography in Hindi

बिंदु (POINTS)जानकारी (INFORMATION)
पूरा नाम ( Full Name )प्रियंका कृति पंचाल
जन्म दिनांक ( Birth )9 अप्रैल 1990
पिता (Father Name)स्व. किरीट पांचाल
माता (Mother Name)दीप्ति पांचाल
बहन ( Sister )वृंदा पांचाल
उम्र ( Pratik Sehajpal Age)32 साल (2022 तक)
जन्म स्थान ( Birth Place )अहमदाबाद, गुजरात, भारत
धर्म ( Region )हिन्दू
राष्ट्रीयता (Nationality)भारतीय
गृह नगर ( Home Town )अहमदाबाद, गुजरात
स्कूल ( School Name )संकल्प इंटरनेशनल स्कूल
कॉलेज ( College Name )हरिदास अचरतलाल कॉलेज ऑफ कॉमर्स, अहमदाबाद
शिक्षा  (Educational )स्नातक
पेशा ( Profession )क्रिकेटर
लम्बाई ( Pratik Sehajpal Height )5 फुट 8 इंच
आंखो का रंग ( Eye Color )काला
बालों का रंग ( Hair Color )काला
गर्लफ्रेंड ( Pratik Sehajpal Girlfriend)ज्ञात नही
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)आविवाहित

प्रियांक पांचाल का जीवन परिचय

Priyank Panchal का जन्म एक मध्यमवर्गीय हिंदू परिवार में हुआ था। उनका पूरा परिवार हिंदू धर्म को मानता है और हिंदू देवी की पूजा करता है। प्रियांक पांचाल के पिता का नाम स्वर्गीय किरीटभाई पांचाल है। उनके पिता कॉलेज स्तर के क्रिकेटर थे जिनकी मृत्यु दिल का दौरा पड़ने से हुई थी।  पिता के गुजर जाने के बाद प्रियांक पांचाल की मां दीप्ति के पांचाल ने उनका काफी साथ दिया। उनकी मां फैशन डिजाइनर हैं।

प्रियांक के परिवार में एक बड़ी बहन भी है जिसका नाम बृंदा पांचाल है। पिता के गुजर जाने के बाद उनकी बड़ी बहन वृंदा ने भी उनके भाई का साथ दिया और उनके सपनों को पूरा करने में उनकी मदद की। प्रियांक की बहन बृंदा इंटीरियर डिजाइनर हैं। अगर उनकी वैवाहिक स्थिति की बात करें तो वह अविवाहित हैं।  प्रियांक के अफेयर की खबरें इंटरनेट मीडिया पर मौजूद नहीं हैं।

प्रियांक पांचाल एक भारतीय क्रिकेटर हैं जिन्हें गुजरात राज्य के लिए प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलने के लिए जाना जाता है। उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए सलामी बल्लेबाज के रूप में भारतीय टीम में शामिल किया गया । उपकप्तान रोहित शर्मा की जगह प्रियांक को टीम में शामिल किया गया है, जो हैमस्ट्रिंग की चोट के कारण सीरीज से बाहर हो गए हैं। प्रियांक पांचाल का टीम इंडिया तक का सफर आसान नहीं रहा है। उन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 100 मैच खेलकर यह सफलता हासिल कीया है। इससे पहले उन्हें जनवरी 2021 में इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज में स्टैंडबाय के तौर पर रखा गया था।

प्रियांक पांचाल का बचपन

प्रियांक का जन्म 9 अप्रैल 1990 को अहमदाबाद, गुजरात में हुआ था। उन्होंने अहमदाबाद के संकल्प इंटरनेशनल स्कूल में अपनी शुरुआती पढ़ाई पूरी की। एक बच्चे के रूप में, वह पढ़ाई में बहुत अच्छा था और उसे क्रिकेट में कोई दिलचस्पी नहीं थी। अपनी पढ़ाई जारी रखते हुए, उन्होंने एच.ए. से स्नातक किया। कॉलेज ऑफ कॉमर्स, अहमदाबाद। पिता किरीटभाई पांचाल के कॉलेज स्तर के क्रिकेटर होने के नाते, उन्होंने ही प्रियांक को क्रिकेट खेलने के लिए प्रेरित किया।

प्रियांक पांचाल क्रिकेट कारेअर

अपने पिता के प्रयासों के कारण, वह क्रिकेट की ओर आकर्षित हुए और उनकी मृत्यु के बाद, प्रियांक ने क्रिकेट को गंभीरता से लेना शुरू कर दिया। उनके पिता का सपना था कि उनका बेटा क्रिकेट खेले और देश के साथ-साथ गुजरात राज्य का भी नाम रौशन करे। पांचाल ने पहली बार अंडर -15 के लिए वर्ष 2003-04 में आयोजित पाउली उमरीगर ट्रॉफी में क्रिकेट की शुरुआत की, जिसमें उन्होंने 2 सीज़न खेले। इसके बाद उन्होंने 2005-06 में आयोजित विजय मर्चेंट ट्रॉफी के अंडर-17 में भाग लिया और ट्रॉफी के फाइनल मैच में शतक बनाया।

उन्होंने गुजरात के लिए खेलते हुए 27 फरवरी 2008 को महाराष्ट्र के खिलाफ अपनी लिस्ट ए की शुरुआत की, जहां उन्होंने 115 गेंदों में 17 चौकों और 1 छक्के की मदद से 123 रन बनाए। पांचाल ने अगले सत्र में गुजरात के लिए सौराष्ट्र के खिलाफ रणजी ट्रॉफी टूर्नामेंट में खेलते हुए प्रथम श्रेणी में पदार्पण किया, जिसमें उनकी टीम ने एक पारी के अंतर से जीत हासिल की। वह नवंबर 2016 में गुजरात के लिए तिहरा शतक बनाने वाले पहले खिलाड़ी बने और एक रणजी ट्रॉफी सत्र में गुजरात के लिए 1000 से अधिक रन बनाने वाले पहले खिलाड़ी भी बने। इस सीजन में उन्होंने 10 मैचों की 17 पारियों में 1310 रन बनाए।

उन्होंने अगले वर्ष 2017-18 में आयोजित रणजी ट्रॉफी में गुजरात के लिए 7 मैचों में 542 रन बनाए।  पांचाल को 2018-19 दलीप ट्रॉफी के लिए इंडिया ग्रीन टीम में नामित किया गया था।  वह गुजरात के लिए 2018-19 रणजी ट्रॉफी सीज़न में ग्रुप स्टेज में खेले गए 9 मैचों में कुल 898 रन के साथ शीर्ष स्कोरर थे।  उन्हें अगस्त 2019-20 दलीप ट्रॉफी में इंडिया रेड टीम का कप्तान बनाया गया था।  इसके बाद उन्हें 2019-20 देवघर ट्रॉफी के लिए इंडिया बी की टीम में शामिल किया गया। प्रथम श्रेणी मैचों में प्रियांक के उत्कृष्ट प्रदर्शन के बावजूद, वह अभी भी भारतीय क्रिकेट टीम और इंडियन प्रीमियर लीग  में खेलने का इंतजार कर रहा है।

प्रियांक पंचाल अपने फिटनेस का ध्यान कैसे रखते हैं

साल 2021 में प्रियांक पांचाल की उम्र 31 साल है। वह भारत में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में जबरदस्त ओपनिंग बल्लेबाज हैं प्रियांक न सिर्फ अपने क्रिकेट पर ध्यान देते हैं, इसके अलावा वह अपनी फिटनेस पर भी काफी ध्यान देते हैं। एक क्रिकेटर के लिए उसकी फिटनेस सबसे महत्वपूर्ण होती है, जो खेल के लिए उच्च स्तर की फिटनेस की मांग करती है।

अपनी फिटनेस को बनाए रखने के लिए वह रोजाना 2 सेशन करते हैं जिसमें वह सुबह योग, प्राणायाम और मेडिटेशन करते हैं और शाम को जिम वर्कआउट में स्ट्रेंथ-बिल्डिंग एक्सरसाइज करते हैं।

प्रियांक पांचाल कि कुल संपत्ति आय और वेतन:

प्रियांक पांचाल की कुल संपत्ति की बात करें तो उनकी कुल संपत्ति लगभग ₹1 करोड़ से ₹1.5 करोड़ है।  इनकी मुख्य कमाई क्रिकेट खेलने से होती है।  वह गुजरात राज्य के लिए प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलते हैं जिसके लिए उन्हें प्रति मैच 10k से 30k तक फीस मिलती है।इसके अलावा उन्हें हर महीने गुजरात राज्य क्रिकेट संघ की ओर से अलग से वेतन मिलता है।

निष्कर्ष

हमे आशा है कि आप को हमारे द्वारा प्रियांक पांचाल से जुङी जो जानकारी दि हैं। वो सही लगेगा अगर आपको सही लगता है तो आप हमारे पोस्ट पर कमेंट कर सकते हैं और शेयर भी कर सकते हैं। इसी तरह हमेशा आपके लिए अच्छी जानकारी आर्टिकल हमारे Hindi Top वेबसाइट पर लाते रहेंगे। आपका एक लाइक हमारे लिखने और नए आर्टिकल को बटोरने में हमारी सहायता करेगा। इसी तरह हमारे पोस्ट में हमारे साथ अन्त  तक जुड़े रहने के लिए धन्यवाद |


Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Arti Jha

मेरा नाम आरती झा है । मै बिहार मुजफ्फरपुर की रहने वाली हूं।मैं पेशे से से एक हिंदी लेखक हुँ ।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button