TechnologyTutorial

पेयपल अकाउंट कैसे बनाएं | Paypal Account kaise Banaye

Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हम सब इंटरनेट, उसके इस्तेमाल और उसकी तरक्की से पूरी तरह से वाकिफ हैं, क्यों की इंटरनेट की वजह से पूरी दुनियां डिजिटल प्लेटफॉर्म का बहुत अच्छी तरीके से इस्तेमाल कर रही हैं फिर चाहे वो ऑनलाइन शॉपिंग करना हो या पेमेंट करना हो। इन्ही डिजीटल चीजों में से एक है पेयपल (PayPal) जो की एक ऑनलाइन पेमेंट टार्सफर और रिसीव करने का अच्छा और सुरक्षित साधन है तो चलिए आज के आर्टिकल में जानते हैं की पेयपाल (PayPal) क्या है, कैसे काम करता है और पेयपल पर अकाउंट कैसे बनाएं (Paypal Account kaise Banaye )।

पेयपल (PayPal) क्या हैं? ( What is Paypal in Hindi )

पेयपल एक ऑनलाइन वेबसाइट है, और आज की तारीख में इसके ऐप हैं, ये सब समझने से पहले आइए ये जानते हैं कि पेयपल क्या है। यह एक अमेरिकी कंपनी है जो दुनिया भर में ऑनलाइन भुगतान प्रणाली (online payment service) का संचालन (Operation) करती है, जो ऑनलाइन मनी ट्रांसफर और पारंपरिक पेपर विधियों जैसे चेक और मनी ऑर्डर के लिए इलेक्ट्रॉनिक विकल्प (alternative) के रूप में कार्य करती है।

इसका प्रयोग आप, हम या कोई Businesses Men किसी को पेमेंट (भुगतान) करने या फिर किसी से पेमेंट लेने के लिए भी किया जाता है। आसान भाषा में कहे तो ये ऑनलाइन पेमेंट करने की वेबसाइट है। जहां आप आसानी से किसी के खाते में पैसा भेज सकते हैं। ये पूरी तरीके से सुरक्षित या कह लें की यह सेफ तरीका है।

पेयपल एक लोकप्रिय (Popular) अमेरिकन कम्पनी (American Company) है। यह विश्वभर में एक ऑनलाइन पेमेंट सर्विस (online payment service) चलाती है।

पेयपल (PayPal) की शुरूआत कहां से हुई?

पेयपल की शुरुवात करीब 1998 में कंफिनिटी नाम की एक कंपनी के रूप में हुई थी। तब यह हांधेल डिवाइसेज (handheld devices) के लिए सिक्योरिटी सॉफ्टवेयर डेवलप का काम किया करती थी।

इसके फाउंडर यानी संस्थापक मैक्स लेवचिन (Max Levchin), पीटर थिएल (Peter Thiel) लीक नोसेक (Luke nosek), और केन हावरी (Ken Howery) हैं।सिक्योरिटी सॉफ्टवेयर डेवलप के व्यवसाय में उन्हें कोई सफलता नहीं मिली, इसलिए कम्पनी ने अपना ध्यान एक डिजिटल वॉलेट में बदल दिया।

मस्क ने उसी वर्ष ऑनलाइन बैंक X.com की सह-स्थापना की थी।जिसका 2000 में कॉन्फिनिटी के साथ विलय कर पेपाल बनाया गया। फिर इसी कंपनी (यानी PayPal) को ईबे ने 2002 में 1.5 अरब डॉलर में खरीदा था। और फिर इसी साल मस्क ने स्पेसएक्स की स्थापना की, जो एक एयरोस्पेस निर्माता और अंतरिक्ष परिवहन सेवा कंपनी है। जिसके वह सीईओ और सीटीओ हैं।मस्क भविष्य में मनी ट्रांसफर व्यवसाय (money transfer businesses) को लेकर काफी उत्साहित थे।

बस यही से पेयपल की कम्पनी ने उड़ान भरनी शुरू कर दी और आज की तारीख में इसकी वेबसाइट के साथ इसका ऐप भी प्ले स्टोर पर उपलब्ध है।यह आपको स्टॉक एक्सचेंज, ट्रेडेड, से लेकर पेमेंट की सुविधा प्रदान करता है।

पेयपल का हेडक्वार्टर सैन जोस, कैलिफोर्निया (San Jose, California) यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका में है।

पेयपल (PayPal)पर अकाउंट (account) कैसे बनाएं? | Paypal Account kaise Banaye

पेयपल पर आपको अपना एकाउंट बनने के लिए तो सबसे पहले बैंक में एक एकाउंट होना जरुरी है, जिससे आप पैसों का लेन देन कर सके। इसके अलावा आपके पास PAN Card ( वेरिफिकेशन के लिए ) Debit या Credit Card ( पैसे भेजने के लिए )

  1. सबसे पहले आपको PayPal.com की वेबसाइट पर जाना होगा। यहां पर साइन अप करिए पर फिर आपको यहां पर अपनी निजी जानकारी भरनी होगी। जैसे की कंट्री, ईमेल, पासवर्ड
  2. ये सब जानकारी के बाद आपको आगे यानी कंटीन्यू (Continue) करना है। अब आपको अपना नेम, एड्रेस बर्थ डेट ये भरनी होगी। इसी तरीके से आपको स्टेप बाय स्टेप जो पूछ जाए उसे भर दे बस आपका अकाउंट बन कर तैयार हो जाएगा।

पेयपल (PayPal) कैसे काम करता है?

पेयपल में ईमेल के इस्तेमाल से अपना यूजर आईडी बननी होती है जिसका प्रोसेस बता चुके हैं। रजिस्ट्रेशन हो जाने के बाद आप आपने बैंक ( bank) या क्रेडिट कार्ड (credit card) की जानकारी भरनी पड़ती है। क्रेडिट कार्ड की जानकारी सही है या नहीं इससे (यानी पेयपल से) हम कुछ अमाउंट (यानी पैसे अपने एकाउंट में) डालते है।

अपने बैंक एकाउंट में यही पैसे मिल जाने के बाद हम पेयपल प्रोफाइल (PayPal profile) में वापस जा कर उतनी ही रकम के आंकड़े को वहां दिए गए बॉक्स में भर देते है।

डाले हुए आंकडे जब सही होते तो हमारा बैंक एकाउंट (account)पूरी तरह से वेरिफाइड (verified) माना जाता है। वेरिफाई हो जाने के बाद हमारा पेयपल में अकाउंट तैयार हो जाता है जीसके जरिये हम अपने पैसे कहीं भी ऑनलाइन सेंड यानी भेज सकते हैं और प्राप्त भी कर सकते हैं।

पेयपल (Paypal) में अकाउंट के प्रकार? ( Paypal Account Types in Hindi )

पेयपल में तीन प्रकार के अकाउंट होते हैं।

  1. PayPal पर्सनल अकाउंट (PayPal Personal Account) – इस अकाउंट का प्रयोग आम लोगो के द्वारा किया जाता है। जो सिर्फ निजी चीजों के लिए लेन देन करते हैं। इन अकाउंट का इस्तमाल पर्सनल इस्तेमाल के लिए किया जाता है। इस अकाउंट से आप 5 क्रेडिट या डेबिट कार्ड के माध्यम से भी पेमेंट कर सकते हैं।
  2. प्रीमियर अकाउंट (Premier Account) – इस प्रकार के अकाउंट उन लोगों के लिएउपयुक्त है, जो की हाई ट्रांजेक्शन करने होते हैं, यानि की जिन्हे पे पल्स (PayPal’s) से करोड़ो रुपयों का प्रीमियम फीचर्स को एक्सेस करना होता है। ये परमियम अकाउंट केवल एक ही व्यक्ति के नाम तक ही सिमित है, यानि की इसे आप बिजनेस पर्पज business के लिए इस्तमाल नहीं कर सकते हैं। पर्सनल अकाउंट की तुलना में यहाँ पर आप अनलिमिटेड मात्रा में क्रेडिट या डेबिट कार्ड पेमेंट की ट्रांजेक्शन कर सकते हैं, लेकिन सभी पेमेंट जो आप रिसीव करते हैं उनके ऊपर टैक्स लगता है।
  3. बिजनेस अकाउंट (Business Account) – इन अकाउंट को बिजनेस के लिए ही तैयार किया गया है। जिसे आप इसे किसी भी बिजनेस, कम्पनी या ग्रुप के नाम से ऑपरेट कर सकते हैं, पेमेंट ट्रांजेक्शन के लिए।

निष्कर्ष [ Paypal Account kaise Banaye ]

मेरे को उम्मीद है की आप को समझ में आ गया होगा की पेयपल पर अकाउंट कैसे बनाएं ( Paypal Account kaise Banaye ) अगर आप का कोई भी प्रश्न है तो आप हम से comment कर के बता सकते है


Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Neha Tripathi

Hello friends, welcome to my blog HINDI TOP BLOG. I am neha triapthi, A part part time blogger from Uttar Predesh, India. Here at HINDI TOP BLOG I write about different types of blog who will gives you knowledge.

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button