एलआईसी का मालिक कौन है | LIC ka Malik kaun hai

Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हेल्लो दोस्तों कैसे हो आप उमीद है की आप अच्छे होगे आप सभी ने एलआईसी ( LIC ) का नाम तो सुना ही होगा लेकिन आप को यहा नही की एलआईसी का मालिक कौन है तो अब हम आप को आज LIC के मालिक के बारे में ही बताने वाले तो आर्टिकल को पूरा जरुर देखना

एलआईसी कंपनी क्या है

क्या आपने भारतीय जीवन बीमा निगम इन्शुरन्स कंपनी के बारे में सुना है। इस कंपनी को हम एलआईसी कंपनी के नाम से जानते है। एलआईसी कंपनी भारत में सबसे बड़ी और जानी मानी कंपनी है। भारत बिमा निगम सबसे
बड़ी निवेशक कंपनी भी है ।

एलआईसी की स्थापना कब हुई

इस कंपनी की स्थापना साल 1सितम्बर, 1956 में हुई और इसका मुख्यालय हमारे देश की राजधानी मुंबई में है इस कंपनी की कार्यालय (ब्रांचेस) देश के हर शहर और गाँव में संचालित है। भारत बीमा निगम का वित्तीयनिर्माण सेवाओ के उद्योग से हुआ था। एलआईसी की लगभग 8 आंचलिक कार्यालय है और 101 संभागीय कार्यालय भारत के विभिन्न क्षेत्रो में स्थित है। एलआईसी कंपनी के चेयरमैन एम आर कुमार जी है।

एलआईसी का इतिहास

चलिए आपको थोड़ा पूर्व एलआईसी की इतिहास की और ले चलते है। सबसे पहले साल 1818 में ओरिएण्टल जीवन कंपनी भारत की पहली बीमा कंपनी बानी। बिपिन दासगुप्ता और उनके सहायक ने इस बीमा कंपनी को कोलकत्ता में स्थापित किया। इसके बाद साल 1870 में म्यूच्यूअल लाइफ अशुअरन्स कंपनी का गठित हुआ। इसके अलावा कई सारी बिमा कम्पनिया आई। लेकिन स्वतंत्रता से पहले वर्ल्ड वॉर की वजह से देश की आर्थिक स्थिति बहुत ही ख़राब हो गई जिससे इन्शुरन्स कम्पनीज को काफी फटकार लगी जिसके वजह से कोई भी टिक नहीं पाई। बाद में कई सारी प्राइवेट इन्शुरन्स कम्पनीज निकली जो पैसे कमाने आई , इससे चिंतित फिरोज गांधीजी जो उस समय पार्लियामेंट के मेंबर थे उन्होंने इन प्राइवेट कम्पनीज पर कार्यवाही करने की बात रखी और फिर इसके बाद कई सारी कम्पनीज को बंद किया गया ।

पार्लियामेंट ऑफ़ इंडिया ने 19 जून ,साल 1956 में लाइफ इन्शुरन्स को शुरुवात करने का आदेश दिया , और यही से सितम्बर 1956 में एलआईसी का निर्माण हुआ। उस समय कंपनी के पास लगभग 154 बिमा पॉलिसीस की कम्पनीज, 16 विदेशी कम्पनीज और 75 प्रोविडेंट कम्पनीज ने एलआईसी में इन्वेस्ट किया था बतौर शेरहोल्डर्स ।

एलआईसी का मालिक कौन है।

यह कंपनी का निर्माण हमारे सरकार ने किया था साल 1956 में लोगो के जनहित और अच्छे भविष्य के लिए। यह पूरी तरह भारत सरकार के आचरण में है । तो एलआईसी का मालिक Government of India है यह कंपनी आज भी हमारे देश में सबसे पॉपुलर और भरोसेमंद कंपनी है। आपको यहाँ तरह तरह के बीमा इन्शुरन्स मिलती है जिसमे सबसे पॉपुलर कुछ बीमाए है जो आज के दौर में प्रसिद्ध है –

  • जीवन बीमा
  • स्वास्थय बीमा
  • म्यूच्यूअल फंड्स
  • पेंशन प्लान

इनके अलावा हज़ारो इन्शुरन्स बीमाए है जो हमारे उपयोग के अनुसार हमें मिलेंगी। अगर इसमें से कोई भी बीमा पॉलिसीस आप लेते है तो आपको हर साल कुछ राशि जमा करनी पड़ती है जो आपको मेचुरिटी के तौर पर इंटरेस्ट के साथ वापस मिलती है। इसमें निवेश करने के लिए या तो आप पास में एलआईसी की कोई भी ब्रांच में जाकर अपने उपयोग अनुसार फॉर्म भर सकते है या फिर आपको ऑनलाइन भी फॉर्म मिल जाएगी जिसमे आप निवेश कर सकते हो ।

एलआईसी कंपनी पर लोगो का इतना विश्वास है की आज भी लोग इसमें निवेश करने से बिलकुल नहीं घबराते क्यूंकि इसमें 100% अपने पैसे वापिस मिलने की गारंटी है। ऐसे अन्य इन्शुरन्स कम्पनीज अभी मार्किट में उत्तरी है पिछले कुछ सालो में, लेकिन इसमें आपकी लगाई हुई राशि की गारंटी बहुत कम है क्यूंकि यह सब प्राइवेट कम्पनीज है जो पैसे तो ले लेती है लेकिन अगर इनकी कंपनी डूबती है तो इसके साथ आपके इनवेस्टेड पैसे भी जा सकते है। एलआईसी में कई बीमा पॉलिसीस है जिसमे आपको छोटे बचे के लिए जीवन बिमा , लड़कियों के लिए पढाई और शादी खर्च की बीमा पोलिसी , बड़े बच्चो के लिए एजुकेशन पॉलिसीस , स्वास्थय हेतु बीमा , एक्सीडेंट इन्शुरन्स पॉलिसीस , टर्म इन्शुरन्स पॉलिसीस , पेंशन प्लान्स बड़े लोगो के लिए,रिटायरमेंटप्लान्स ऐसे कई सारे स्कीम्स है जो की कम राशि इन्वेस्टमेंट प्लान्स है और इसमें आपको बहुत अच्छी इंटरेस्ट रेट्स हैं , तो अगर आपने अभी तक कोई पोलिसी नहीं ली है तो आप इनकी वेबसाइट में जाकर ऑनलाइन खरीद सकते है।

एलआईसी कंपनी की एक और खास बात यह है की इसमें आप बतौर एजेंट भी बन सकते है। एजेंट बनने के लिए आपको एक परीक्षा देनी पड़ती है ,और फिर आप एलआईसी के एजेंट बन जाते है। एजेंट बन जाने के बाद आपको इस कंपनी की बीमा पॉलिसीस लोगो तक पहुचानी है , इस पर आपको अच्छा कमीशन मिलता है। इस कंपनी से करीबन लाखों एजेंट्स बन चुके है। कई एजेंट्स ऐसे है जिन्होंने एलआईसी पॉलिसीस की मार्केटिंग में ही अपना गुजरा कर रहे हैं और कुछ लोग अपने जॉब के साथ एलआईसी के एजेंट का भी काम कर रहे है। एलआईसी कंपनी में करीबन 1,15,000 कर्मचारी काम करते है |

एलआईसी का स्लोगन

एलआईसी का स्लोगन है योगक्षेमं वहाम्यहम जो की संस्कृत शब्द है। इसका अर्थ है “आपका कल्याण हमारी जिम्मेदारी है यह श्लोक भगवद गीता से लिया गया है। एलआईसी कंपनी ने इसका logo को देवनागरी लिपि में रखा है।

साल 2019 तक , हमारे देश में एलआईसी के पास कुल 28.3 ट्रिलियन फंड्स थे । करीबन साल 2018 से 2019 में 21.4 मिलियन पोलिसी बीमा बेचीं गई। वही साल 2018 से 2019 तक देश में एलआईसी ने 26 मिलियन पोलिसी क्लेम्स का सेटलमेंट किया है। यहाँ पर तक़रीबन 290 मिलियन पोलिसी होल्डर्स है। इस कंपनी के कुल 12 लाख के ऊपर की संख्या में एजेंट्स हैं , यह आंकड़ा साल 2020 का है। एलआईसी में कर्मचारियों को 3 क्लास में रखा गया है –

  • क्लास 1 ऑफिसर्स – इसमें कुल कर्मचारी 32,433 है
  • क्लास 2 डेवलपमेंट ऑफिसर्स – इसमें कुल कर्मचारी 24,388 है
  • क्लास 3/4 में – इसमें कुल कर्मचारी 57,677 है

यह आंकड़ा 2019 का है जिनमे कुल महिलाऐं हर क्लास में लगभग 25,602है।

आप ने क्या सिखा

उम्मीद है की आप ने हमारे आर्टिकल से काफी सिखने को मिला होगा और आप को पता होगा की एलआईसी का मालिक कौन है ? अगर अब भी आप का कोई प्रश्न होता हे तो आप हम से comment कर भेज सकते है और आप ने अभी तक हमारे Hindi Top ब्लगो को फॉलो नही क्या है तो इसको फॉलो कर ले हम यह सब जानकारी आप के लिए लेकर आते रहते है


Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply