Facebook Ads क्या है | Facebook Ads Kya hai.

Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

फेसबुक जैसा की हम सबको पता है ये एक ऑनलाइन सोशल मीडिया नेटवर्किंग साइट हैं। जहां करोड़ो लोग जुड़े और इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में अपने देखा होगा की फेसबुक यूज करते समय हमे बहुत से एडवर्टिमेंट दिखाई देते हैं, जिसमे कुछ तो बहुत ही आकर्षक लगते हैं और बहुत से लोग आकर्षक लगने वाली साइट पर जा कर देखते भी तो ये जो विज्ञान था ये फेवबुक यूजर्स तक पहुंचने का जो सिलसिला था वो फेसबुक ऐड ही था। अगर आपको इसके बरे में और भी जानकारी चहिए तो ये आर्टिकल अपको पढ़ना पड़ेगा। Facebook Ads Kya hai

फेसबुक ऐड क्या हैं

फेसबुक ऐड फेसबुक पर आने वाले विज्ञापन (advertisment) है जो उपयोगकर्ता यानी इस वेबसाइट को इस्तमेल करने वालों को देखने को मिलता है।

फेसबुम ऐड ( Facebook Ads ) एक डिजिटल मार्केटिंग का ही पार्ट, जैसे की अक्सर एड्स हमें पेपर, पैंपलेट्स, रेडियो, टीवी पर दिखाई देते हैं। क्यों की इसके माध्यम से जो विज्ञानपकर्ता (advertiser) है वो काफ़ी लोगों से जुड़ता हैं। इसी तरह से एक बड़ी संख्या में लोगों तक अपने व्यवसाय ( Business ) को पहुंचाने के लिए साथ सिर्फ उन लोगों जैसे की कोचिंग का ऐड हैं तो पर्टिकुलर उस एज ग्रुप के लोगों तक या कोई लेडिज क्लॉथ की वेबसाइट या शॉप है तो सिर्फ उन तक ऐसे ही एड्स के लिए फेसबुक ऐड एक व्यवसाय चलाने वाले लोगों की मदद करता हैं।

खास बात ये हैं की चाहें आप ऑनलाइन व्यापार करते हों या फिर ऑफलाइन दोनों ही केस में आप फेसबुक पर अपनी ऐड अपलोड कर सकते हैं।

ऑफलाइन में आप अपनी लोकेशन फील करके और ऑनलाइन में आप अपनी वेबसाइट की लिंक दर्ज करके साथ ही एक चीज कॉमन होगी अपको अपना फोन और मैसेज की सुविधा देनी होगी साथ ही आपका फेसबुक पेज ( Facebook Page ) होना जरूरी होगा।

Facebook Ads कैसे की जाती हैं या फेसबुक का इस्तेमाल

अब फेसबुक ऐड क्या होता हैं ( Facebook Ads Kya hai. ) ये तो समझ लिया अब समझते हैं की फेसबुक ऐड का इस्तेमाल कैसे किया जाए।

इसके लिए हमें अच्छी तरह से टेक्नोलॉजी ( Technology ) की समझ के साथ फेसबुक के तमाम फीचर्स की जानकारी होना जरूरी होती हैं लेकिन हम आपको आसन शब्दों में समझने की कोशिश करते हैं।

जैसा की मैने आपको पहले बताया कि आपके पास फेसबुक एकाउंट साथ ही फेसबुक पेज होना जरूरी हैं।

फिर आप डिसाइड कर ले की आपका जो भी विज्ञापन है वो किस तरह का हैं और किस चीज के लिए है साथ ही किन किन लोगों तक इस ऐड को पहुंचाना है, उस तरीके से अपने ऐड कैंपेन का नाम रख लें, ताकि लोगों को समझ आए की ये किस तरह की ऐड हैं।

अगर आपका ऑनलाइन व्यापार ( Online Business ) हैं. तो उसकी लिंक रेड्डी रखें और ऑफलाइन हैं तो लोकेशन अच्छे से सर्च करके रखें ताकि लोगों को समझ आए साथ आप जो फोन नबर और मैसेज की उस ऐड के साथ देना चाहतें हैं उसे भी लिख के तैयार कर लें।

अब आप अपना बजट भी डिसाइड कर लें क्यों की हर विज्ञापन (advertisement) का जो पैसे होते हैं वो अलग अलग होते हैं इसलिए आपको ये भी डिसाइड करना जरुरी है।

फेसबुक ऐड ( Facebook Ads ) देने के लिए अपके पास बैंक एकाउंट तो जरूरी है ही साथ ही क्रेडिट या डेबिट कार्ड होना चहिए। ये नहीं तो आपके पास नेटबैंकिंग होना ही चहिए ताकि आप ऑनलाइन पेमेंट कर सके।

इसके बाद आप अपनें विज्ञापन को अच्छी तरह से डिजाइन कर ले इसके लिए आप चाहें तो किसी डिजाइनर से भी करवा सकते हैं आप चाहें तो एड्स बैनर या वीडियो भी बनवा सकते हैं।

ये तो रहीं जरूरी बातें जो आपको करनी ही हैं ताकि ऐड क्रिएट करते समय आपको कोई समस्या ना हो अब जानते है ऐड कैसे क्रिएट करें ( Facebook Ads Kaise Banaye. )

Facebook Ads कैसे बनाये ?

अपने फेसबुक पेज पे जाएं, इसके बाद आपको ऐड क्रिएट पर जाना हैं।

ऐड क्रिएट के बाद अपको ऐड मैनेजर ( Ads Manager ) पर जाना है, जिसके बाद आप से आपके ऐड कैंपेन ( Ads Campaign ) का नाम पूछेगा आपको दर्ज करना हैं. जिसके बाद अपको ऑब्जेक्ट ( Object ) चुनना होगा जहां आप अपने ऐड पे ट्रैफिक लगना है जो भी सही लगे उसे चुने।

इसके बाद भी आपसे आपकी कम्पनी के अनुसर जो भी जानकारी उसमे दर्ज करने को कही जाए आपको आपके व्यापार के अनुसार दर्ज करना होगा।

देखिए जो ध्यान रखने वाली बात है वो ये की अपको अपने व्यापार का उद्देश्य खुद चुनना होगा, अपनी ऑडियंस साथ ही तय करें कि आपका विज्ञापन कहां चलाया जाए, बजट सेट करना है, फॉर्मेट चुनना है, अपना आर्डर देना है, और इसके बाद अपने विज्ञापन का मूल्यांकन करें और उसे मैनेज करना है।

Read Now – Facebook kisne Banaya

ऐड अपलोड होने में भी समय लेता हैं जैसे की 1 घंटे से ऊपर तो परेशान ना हो क्योंकि फेसबुक ऐड ( Facebook Ads ) को चेक करता है उसके रूल्स रेगुलेशन ( Rules Regulation ) यानी उसकी पॉलिसी के अनुसार अगर आपका विज्ञापन उसकी पॉलिसी पे फिट बैठा तो ऐड अपलोड हो जायेगा अगर नहीं तो वो उसे अपलोड नहीं करेगा।

फेसबुक ऐड ( Facebook Ads ) के फायदे ये हैं की आपके बिजनेस को बढ़ावा तो मिलेगा ही है साथ ही आप अपने ऐड को स्वयं नोटिस कर सकते हैं कि कितना देखा जा रहा है और आगे ऐड देते समय आप इन बातों का ध्यान रख सकते हैं।

आज डिजिटल मार्केटिंग के बहुत से मायने हैं आने वाला समय में डिजिटल मार्केटिंग की अपनी एक अलग पहचान होगी तो समय के साथ हर व्यक्ति को हर चीज की जानकारी होना जरूरी होता है।

निष्कर्ष [ Facebook Ads Kya hai ]

आप को पूरी जाकारी मिल गई होगी की Facebook Ads kya hai. और आप को अगर Facebook से Related और भी जानकरी चाइये तो हमारे Bell Icon Button को दबा दे क्यों की हम इसी डेली नई जानकारी आप के लिए लेकर आते रहते है.

Summary
Article Name
फेसबुक ऐड क्या हैं
Description
फेसबुम ऐड ( Facebook Ads ) एक डिजिटल मार्केटिंग का ही पार्ट, जैसे की अक्सर एड्स हमें पेपर, पैंपलेट्स, रेडियो, टीवी पर दिखाई देते हैं। क्यों की इसके माध्यम से जो विज्ञानपकर्ता (advertiser) है वो काफ़ी लोगों से जुड़ता हैं।
Author
Publisher Name
योगेश शर्मा

Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply