BiographyIndian Epics Biography

Draupadi Murmu Biography in Hindi | द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय

Share Now

हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सब हम उम्मीद करते हैं कि आप सब कुशल पूर्वक होंगे दोस्तों वैसे तो आपको हमारे Hindi Top  वेबसाइट पर बहुत सारे लेख पढ़ने को मिलते रहते हैं लेकिन आज हम बात करने जा रहे हैं द्रोपती मुर्मू के जीवन परिचय (Draupadi Murmu Biography in Hindi) के बारे में इस से पहले हम कई लोगो के जीवन के बारे में बता चुके आप हमारे Biography पेज पर जा कर आर्टिकल रीड कार सकते है अब चलते है अपने उस आर्टिकल की और तो शुरू करते है

Draupadi Murmu Biography in Hindi

द्रोपती मुर्मू के बारे में निचे टेबल में जानकारी दी गई है

द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचयजानकारी
पूरा नामद्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu)
पिता का नामबिरची नारायण तुडु
राजनेता पार्टीभारतीय जनता पार्टी
पेशाराजनीति
जन्म तिथि20 जून 1 958
आयु64 वर्ष
जन्म स्थानमयूरबंज, उड़ीसा, भारत
 जातियांअनुसूचित जनजाति
धर्म हिंदू बेटी: एटी मर्मू

हाल ही में द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) को एनडीए ने भारत के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में पेश किया है।  द्रौपदी मुर्मू का जन्म वर्ष 1958 में भारत के उड़ीसा राज्य के मयूरभंज क्षेत्र में एक आदिवासी परिवार में 20 जून को हुआ था।

  इस तरह वह एक आदिवासी समुदाय की महिला हैं और उन्हें एनडीए ने भारत के अगले राष्ट्रपति के उम्मीदवार के रूप में पेश किया है और यही कारण है कि द्रौपती मुर्मू की इन दिनों इंटरनेट पर काफी चर्चा हो रही है

द्रौपदी मुरमू (Draupadi Murmu) की शिक्षा

द्रौपदी मुरमू (Draupadi Murmu) को जब कुछ समझ आया, तभी उनके माता-पिता ने उन्हें अपने क्षेत्र के एक स्कूल में भर्ती कराया, जहां उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी की।  इसके बाद वह स्नातक की पढ़ाई के लिए भुवनेश्वर शहर चली गईं।  भुवनेश्वर शहर जाने के बाद, उन्होंने रमा देवी महिला कॉलेज में प्रवेश लिया और रमा देवी महिला कॉलेज से ही स्नातक की पढ़ाई पूरी की।

स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद, उन्हें बिजली विभाग में एक कनिष्ठ सहायक के रूप में ओडिशा सरकार में नौकरी मिल गई।  उन्होंने यह कार्य वर्ष 1979 से 1983 तक पूरा किया। इसके बाद उन्होंने वर्ष 1994 में अरबिंदो इंटीग्रल एजुकेशन सेंटर, रायरंगपुर में एक शिक्षक के रूप में काम करना शुरू किया और यह काम उन्होंने 1997 तक किया।

द्रौपदी मुर्मू परिवार

उनके पिता का नाम बिरंची नारायण टुडू है और द्रौपदी मुर्मू संताल आदिवासी परिवार से हैं। द्रौपदी मुर्मू झारखंड राज्य के गठन के बाद पांच साल का कार्यकाल पूरा करने वाली पहली महिला राज्यपाल हैं।  उनके पति का नाम श्याम चरण मुर्मू है।

द्रौपदी मुरमू राजनीतिक जीवन कैसा है

  • द्रौपदी मुर्मू को वर्ष 2000 से 2004 तक उड़ीसा सरकार में स्वतंत्र प्रभार के साथ राज्य मंत्री के रूप में परिवहन और वाणिज्य विभाग को संभालने का अवसर मिला।
  • उन्होंने 2002 से 2004 तक उड़ीसा सरकार के राज्य मंत्री के रूप में पशुपालन और मत्स्य पालन विभाग को भी संभाला।
  • 2002 से 2009 तक, वह भारतीय जनता पार्टी के अनुसूचित जाति मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की सदस्य भी रहीं।
  • 2006 से वर्ष 2009 तक भारतीय जनता पार्टी के एसटी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष पद पर रहे।
  • द्रौपदी मुरमू  अनुसूचित जनजाति मोर्चा के साथ वर्ष 2013 से वर्ष 2015 तक भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य रहे।
  • 2015 में झारखंड के राज्यपाल का पद प्राप्त हुआ और यह वर्ष 2021 तक इस पद पर रहे।

द्रौपदी मुरमू को 1997 ईस्वी में जिला परिषद के लिए चयनित किया गया था

यह वर्ष 1997 में था, जब वह पहली बार ओडिशा के रायरंगपुर जिले से जिला पार्षद के रूप में चुनी गईं, साथ ही रायरंगपुर की उपाध्यक्ष भी बनीं।  इसके अलावा उन्हें वर्ष 2002 से वर्ष 2009 तक मयूरभंज जिला भाजपा के अध्यक्ष बनने का भी मौका मिला। वर्ष 2004 में वे रायरंगपुर विधानसभा से विधायक बनने और आगे बढ़ते हुए वर्ष 2015 में भी सफल रहीं।  उन्हें झारखंड जैसे आदिवासी बहुल राज्य के राज्यपाल का पद संभालने का भी मौका मिला।

द्रोपति मुर्मू ने एक साथ अपने पति और दोनों बेटों को खो दिया

द्रौपदी मुर्मू का विवाह श्याम चरण मुर्मू से हुआ था, जिनसे उन्हें एक बच्चे के रूप में कुल 3 बच्चे हुए, जिनमें दो बेटे और एक बेटी थी। हालांकि उनका निजी जीवन बहुत खुशहाल नहीं रहा, क्योंकि उनके पति और उनके दो बेटे अब इस दुनिया में नहीं हैं। उनकी बेटी अब जीवित है जिसका नाम इतिश्री है, जिसकी शादी द्रौपदी मुर्मू ने गणेश हेम्ब्रम से की है।

द्रोपति मुर्मू को मिला चुका है ये सभी पुरस्कार

द्रौपदी मुर्मू प्राप्त पुरस्कार द्रौपदी मुर्मू को वर्ष 2007 में सर्वश्रेष्ठ विधायक का नीलकंठ पुरस्कार मिला। यह पुरस्कार उन्हें ओडिशा विधानसभा द्वारा दिया गया था।

निष्कर्ष

हेलो दोस्तों इस लेख में आपने जाना द्रोपती मुर्मू के जीवन परिचय (Draupadi Murmu Biography in Hindi) के बारे में हम उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा जो द्रोपति मुर्मू से जुड़ी जानकारी आपको दिया गया है वो आपको सही लग रहा होगा।

अगर आपको यह लेख सहीं लगता है तो आप इसे सोशल मीडिया पर शेयर कर सकते हैं हमारे साथ इस लेख में शुरू से अंत तक बने रहने के लिए तहे दिल से धन्यवाद।


Share Now

Arti Jha

मेरा नाम आरती झा है । मै बिहार मुजफ्फरपुर की रहने वाली हूं।मैं पेशे से से एक हिंदी लेखक हुँ ।

Related Articles

Leave a Reply