यात्रा

15 दिल्ली में घूमने की जगह | Delhi me Ghumne ki Jagah

Share Now

दिल्ली! दिल्ली को दिलवालों की दिल्ली भी कहा जाता है। दिल्ली शहर हमारे देश की राजधानी के साथ-साथ एक बहुत ही सुंदर शहर है। दिल्ली शहर में हर प्रांत के लोग रहते हैं। और घूमने के लिए आते रहते हैं। दिल्ली में घूमने फिरने के लिए वैसे तो बहुत सी जगह हैं परंतु जब हम दिल्ली का नाम सुनते हैं तो सबसे पहले हमारे दिमाग में इंडिया गेट आता है। इंडिया गेट दिल्ली में एक बहुत ही खूबसूरत घूमने फिरने की जगह में से एक है।

15 दिल्ली में घूमने की जगह (Delhi me Ghumne ki Jagah)

आइए आज हम बात करते हैं दिल्ली में घूमने के लिए 15 अलग-अलग जगह के बारे में। तो शुरू से जानते है कि दिल्ली में घूमने की जगह कौन कौन सी है?

  1. इंडिया गेट
  2. वेस्ट टू वंडर पार्क
  3. हौज खास
  4. लाल किला
  5. क़ुतुब मीनार
  6. अक्षरधाम मंदिर
  7. लोटस टेंपल
  8. हुमायूं टॉन्ब (हुमायुं का मकबरा)
  9. जंतर मंतर
  10. चांदनी चोक
  11. जामा मस्जिद
  12. कनॉट प्लेस
  13. सरोजनी नगर मार्केट
  14. राष्ट्रपति भवन
  15. राजघाट

इंडिया गेट

जब भी आप दिल्ली में घूमने के लिए गए हैं तो इंडिया गेट एक सबसे महत्वपूर्ण स्थल है। इंडिया गेट का मूल नाम अखिल भारतीय युद्ध स्मारक है जिसे भारतीय सेना के 82000 सैनिकों की याद में बनाया गया था जिन्होंने प्रथम विश्व युद्ध के दौरान 1914 से 1921 के साथ-साथ तीसरे एंगलो अफगान युद्ध में अपनी जान गवाई थी।

इंडिया गेट

यह युद्ध स्मारक राजपथ पर स्थित है जहां आप दिल्ली के बाराखंबा रोड मेट्रो स्टेशन पर उतरकर बहुत आसानी से पहुंच सकते हैं। इंडिया गेट को दिल्ली में दोस्तों रिश्तेदारों और अपने परिवार के साथ घूमने वाली जगह में सबसे अच्छी जगह माना जाता है। यह जगह वैसे तो बहुत ही खूबसूरत है परंतु इसका इतिहास इसे और भी खूबसूरत बना देता है।

वेस्ट टू वंडर पार्क दिल्ली में घूमने की जगह

जैसा कि आपको नाम से ही पता चल रहा है यह पर औद्योगिक और विभिन्न अन्य अपशिष्ट पदार्थों से बना है और यह वास्तव में आप को आश्चर्यचकित कर देगा। दुनिया के सात शास्त्रीय अजूबों की प्रकृति है यह दिल्ली के प्रसिद्ध आकर्षणों में से एक है पूर्णविराम यदि आप यह सोच रहे हैं कि आप अपने बच्चों को कुछ समर्थ करने के लिए कहा ले जा सकते हैं तो वेस्ट टू वंडर पार्क की यात्रा आपके लिए बहुत ही फायदेमंद हो सकती है।

वेस्ट टू वंडर पार्क

अगर आप दिल्ली में घूमने के लिए जगह देख रहे हैं तो वेस्ट वंडर पार्क आपके लिए बेस्ट जगह मानी जा सकती हैं। यह पाक रोजाना सुबह 11:00 बजे खुलता है और सोमवार के दिन है पर कब बंद रहता है। इस पर अपने हर उम्र के बच्चे बूढ़े जवान घूम सकते हैं और उसका आनंद ले सकते हैं। स्थान- निजामुद्दीन मेट्रो स्टेशन के पास, ब्लॉक ए, नगली राजापुर, सराय काले खां, नई दिल्ली।

हौज खास

हौज खास नामक जगह दक्षिण दिल्ली का एक बहुत ही खूबसूरत इलाकों में से एक है और दिल्ली के सबसे प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों में से एक है। हौज खास एक ऐतिहासिक रूप से बहुत ही महत्वपूर्ण हौज खास परिवार के रूप में जानी जाती है। यह ग्रामीण और शहरी वातावरण दोनों को प्रदर्शित करता है और इसे महक का छोटा किला भी कहा जाता है।

हौज खास

यह स्थान पश्चिम में ग्रीन पार्क और उत्तर की ओर गुलमोहर पार्क से घिरा हुआ है। इसने अल्बानिया, इराक, गिनीज, बुरुंडी, मैसेडोनिया मिशनों और अन्य जैसे विभिन्न राजनयिक मिशनों को देखा था। इसी नाम से एक प्राचीन जल भंडार की उपस्थिति के कारण इसका नाम बाहरी दुनिया से सराहना प्राप्त करने लगा।

यह अब विशाल हौज खास परिसर का हिस्सा है। हौज का उर्दू में मतलब होता है पानी की टंकी और खास को शाही कहा जाता है और इस तरह इसे गांव में शाही तालाब माना जाता है। हौज खास की पानी की टंकी का निर्माण सबसे पहले अलाउद्दीन खिलजी ने सिरी किले के निवासियों को पानी की आपूर्ति करने के लिए किया था और बाद में 1960 के दशक में इसे भारत के प्रसिद्ध बिल्डरों डीएलएफ द्वारा विकसित किया गया था।

लाल किला दिल्ली में घूमने की जगह

अगली खूबसूरत एवं ऐतिहासिक जगहों में से एक जगह दिल्ली में लाल किला है। लाल किले में अक्सर लोग घूमने फिरने एवं छुट्टियों के दिन 9 में पिकनिक बनाने के लिए भी जाते हैं। यहां पर काफी भारी मात्रा में विदेशी यात्री भी घूमने के लिए आते हैं। लाल किले का इतिहास बहुत ही शानदार है।

लाल किला
लाल किला

जब हम बात करते हैं इस लाल किले के इतिहास की यह लाल किला 200 से भी अधिक वर्षों के लिए मुगल राजवंश के सम्राटों का मुख्य निवास था। सन 18 सो 57 तक मुगल परिवार वहां रहते थे। दिल्ली के ताज में एक सुनहरा पंख अकेला है और इसमें कई संग्रहालय भी है।

क़ुतुब मीनार

हालांकि यह मुग़ल बादशाहों का घर था इसके साथ साथ यह मुगल राज्य का राजनीतिक और सांस्कृतिक केंद्र भी था। लाल किला बहुत ही सुंदर जगह होने के साथ-साथ इसमें बहुत सारी महत्वपूर्ण घटनाएं घटी हुई है। पुरानी दिल्ली में घूमने के लिए यह सबसे अच्छी जगह है क्योंकि इसे भारत के स्वतंत्रता संग्राम के एक प्रतीक के रूप में भी जाना जाता है।

क़ुतुब मीनार
क़ुतुब मीनार

दिल्ली में घूमने के लिए एक सबसे अच्छी जगहों में से एक कुतुब मीनार भी है। कुतुबमीनार को वर्तमान में भारत में मौजूद एक बहुत ही महत्वपूर्ण एवं ऐतिहासिक आकर्षक माना जाता है। यह कुतुब मीनार परिसर का एक सा है जिसे यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया है।

यह उत्तर दिल्ली में घूमने के लिए प्रसिद्ध स्थानों में से भी एक है। क़ुतुब मीनार दिल्ली के महरौली क्षेत्र में स्थित है। कुतुब मीनार मेट्रो स्टेशन से लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। कुतुब मीनार को मेट्रो में बैठे हुए यात्री भी बहुत आसानी से देख सकते हैं।

अक्षरधाम मंदिर

दिल्ली में घूमने के लिए एक और बहुत ही प्रसिद्ध जगह अक्षरधाम मंदिर है। दिल्ली के मंदिरों में अक्षरधाम मंदिर और जिसे हम स्वामीनारायण अक्षरधाम परिसर के रूप में भी जानते हैं। क्योंकि यह दिल्ली में एक आध्यात्मिक और सांस्कृतिक परिसर के रूप में जाना जाता है और पूर्वी दिल्ली में घूमने के लिए प्रसिद्ध स्थानों में से एक है। यह परिसर पारंपरिक हिंदू एवं भारतीय संस्कृति आध्यात्मिक और वास्तुकला को प्रदर्शित करता है।

अक्षरधाम मंदिर

दुनियाभर से दिल्ली में घूमने के लिए आने वाले पर्यटक भारत की आध्यात्मिक तथ्यों को समझने के लिए इस मंदिर के दर्शन करते हैं। अक्षरधाम मंदिर का उद्घाटन सन 2005 में डॉ एपीजे अब्दुल कलाम जी ने किया था। दिल्ली में परिवार के साथ घूमने आने के लिए यह सबसे प्रमुख धार्मिक स्थलों में से एक है। यह मंदिर यमुना नदी के तट पर स्थित है।एक अभिषेक मंडप, सहज आनंद वाटर शो, एक थीम आधारित उद्यान, और सहजानंद दर्शन, नीलकंठ दर्शन और सांस्कृतिक दर्शन जैसी तीन प्रदर्शनी हैं जो एक सांस्कृतिक नाव की सवारी है।

लोटस टेंपल

लोटस टेंपल दिल्ली में मौजूद प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों में से एक है। यह स्थान अपनी वास्तुकला और सुंदरता के कारण दुनिया भर के पर्यटकों मैं प्रसिद्ध है। इस मंदिर का निर्माण 1986 में पूरा हुआ था। लोटस टेंपल एक कमल के फूल की तरह दिखता है लेकिन यह सफेद रंग से बनाया गया है।

लोटस टेंपल

लोटस मंदिर क्षेत्र और जाति की परवाह किए बिना सभी लोगों के लिए खुला होता है। इस मंदिर में विभिन्न जातियों और प्रांतों के लोग घूमने के लिए आते हैं। यह संरचना 27 फ्री-स्टैंडिंग मार्बल क्लैड पंखुड़ियों से बनी है, जो नौ भुजाओं को बनाने के लिए तीन के समूहों में है। अगर आप दिल्ली में घूमने के लिए आते हैं तो आपको एक बार इस लोटस मंदिर में जरूर घूमने जाना चाहिए।

हुमायूं टॉन्ब (हुमायुं का मकबरा)

दिल्ली में मकबरा हुमायूं या हुमायूं का मकबरा भारत का एक बहुत ही प्रमुख एवं ऐतिहासिक स्थल है और उत्तर दिल्ली में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह में से एक है पूर्णविराम यह भारत के प्रसिद्ध मुगल सम्राट हुमायूं का मकबरा है। यह हिमायू की पहली पत्नी द्वारा कमीशन किया गया था जो कि 1569-70 मैं महारानी बेगम बेगम भी थी।

हुमायूं टॉन्ब

मकबरे का डिजाइन मिरक मिर्जा घियास के दिल में पैदा हुआ था- बेगा बेगम द्वारा आमंत्रित एक निजी वास्तुकार। दिल्ली में निजामुद्दीन पूर्व में स्थित मकबरे को भारतीय उपमहाद्वीप में पाए जाने वाले पहले उद्यान मकबरे के रूप में जाना जाता है जो दीनानगर के बहुत करीब स्थित है। यह गर्मियों के दौरान दिल्ली में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह माना जाता है क्योंकि इसके बड़े के भीतर एक चारदीवारी वाला बगीचा भी मौजूद है।

जंतर मंतर

जंतर मंतर

दिल्ली में स्थित जंतर मंतर एक बहुत ही सुंदर घूमने के लिए स्थान है। यह जंतर मंतर जयपुर के महाराजा जयसिंह द्वितीय के द्वारा दिल्ली में बनवाया गया था। यह पांच प्रमुख जंतर-मंतर में से एक है जिसमें दिल्ली की जयपुर के बराबर प्रतिष्ठा है। जंतर मंतर पर 13 वास्तु खगोल विज्ञान यंत्र है। या गर्मियों में दिल्ली में सबसे अधिक देखे जाने वाला पर्यटन स्थलों में से एक है और इसे दिखाओ खगोलीय तालिका को संकलित करने और सूर्य चंद्रमा और ग्रहों की गति और समय की भविष्यवाणी करने के लिए डिजाइन किया गया है।

चांदनी चोक

चांदनी चौक ऐसा नाम है जिसे हर एक दिल्ली वाला जानता है। यह नहीं परंतु हिंदुस्तान के बहुत सारे लोक चांदनी चौक के बारे में जानते हैं यह दिल्ली का सबसे पुराना और सबसे व्यस्त बाजारों में से एक है। भारत में एक प्रमुख आकर्षण यह जीवन बाजार है यहां पर आपको A से Z सभी प्रकार की आइटम मिल जाएंगी।

चांदनी चोक

अगर आपको चांदनी चौक में खरीदारी का आनंद लेना चाहते हैं तो ऊपर से लेकर मार्च के बीच में घूमने का सबसे अच्छा समय माना जाता है। यह लाल किला चौक का एक हिस्सा है और यह उत्तरी दिल्ली में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह में से एक है।

जामा मस्जिद

दिल्ली के लोग मस्जिद-ए जहांनुमा को अपने करीब मानते हैं, इसलिए इसे प्यार से दिल्ली की जामा मस्जिद कहते हैं। जामा मस्जिद संपूर्ण भारत में प्रसिद्ध है यह बड़ी मस्जिदों में से एक है जैसे मुगल बादशाह शाहजहां ने 1644 से 1656 के बीच में बनवाया था।

जामा मस्जिद

इस मस्जिद को बनवाने में लगभग 10 लाखों रुपए लगे थे। पूरा होने के बाद बुखारा के इमाम ने इसका उद्घाटन किया था। मस्जिद 3 बड़े द्वारा और चारमीनार रूप से सुरक्षित है। साथ ही लाल बलुआ पत्थर और सफेद संगमरमर पर बनी 40 मीटर ऊंची दो मीनारें खड़ी हैं।

कनॉट प्लेस

कनॉट प्लेस

कनॉट प्लेस को अक्सर सीपी के नाम से भी जाना जाता है। भारत का सबसे बड़ा फाइनेंस कमर्शियल और बिजनेस स्थान दिल्ली कनॉट प्लेस है जो कई प्रकार की दुकानों पर आरोप भवनों होटलों और महत्वपूर्ण इमारतों में उद्धव का गवाह रहा है। यदि आप आरामदायक कमरे और बिस्तर, स्वादिष्ट भोजन और आधुनिक और आवश्यक सुविधाओं की तलाश कर रहे हैं तो आपको कनॉट प्लेस के पास दिल्ली में शानदार होमस्टे पा सकते हैं। दिल्ली आने वाले अत्यधिक लोग कनॉट प्लेस घूमने के लिए जरूर जाते हैं।

सरोजनी नगर मार्केट

दिल्ली में रहने वालों या दिल्ली में घूमने जाने वालों में शॉपिंग करने का ख्याल आता है तो उनके दिमाग में सबसे पहला नाम सरोजनी नगर मार्केट का ही आता है। सरोजिनी नगर दक्षिण पश्चिम दिल्ली का एक प्रसिद्ध पड़ोस है। यह दिल्ली में एक असामान्य खरीदारी का स्थल है यहां पर आप बहुत ही कम पैसों में बहुत सारी वस्तुएं खरीद सकते हैं।

यह सफदरजंग हाईवे अड्डे के बहुत ही करीब स्थित है और इसका नाम सरोजिनी नगर होने से पहले इसे विनय नगद कहा जाता था और बाद में इसका नाम बदलकर सरोजिनी नगर मार्केट कर दिया गया। कॉलोनी सफदरजंग एन्क्लेव, साउथ एक्सटेंशन, लक्ष्मीबाई नगर, नौरोजी नगर, चाणक्यपुरी और नेताजी नगर से भरी हुई है। कपड़े, सामान, जूते, कपड़े आदि जैसे विभिन्न सामान खरीदने के लिए यह दिल्ली की सबसे प्रसिद्ध जगहों में से एक है।

राष्ट्रपति भवन

जहां पर दिल्ली घूमने फिरने, ऐतिहासिक स्थानों, विभिन्न प्रकार के सम्मान के लिए प्रसिद्ध है वहीं पर दिल्ली राजनीति के लिए भी बहुत प्रसिद्ध है। ऐसे ही राजनीति से संबंध रखने वाला यहां पर एक राष्ट्रपति निवास भी है जिसे पहले वायसराय हाउस के नाम से भी जाना चाहता था।

राष्ट्रपति भवन

यह भवन दिक्तत तौर पर भारत के राष्ट्रपति का घर है। यह राजपथ के पश्चिमी छोर पर स्थित है। हवेली या मुख्य भवन में राष्ट्रपति का अधिकारी आवास, हॉल, अतिथि कक्ष और कार्यालय है। यह भवन पूरे 130 हेक्टर के प्रेसिडेंट एस्टेट में मुगल गार्डन के रूप में जानने वाला सबसे विशाल उद्यान, बड़े खुले स्थान, कार्यालय के कर्मचारियों का आवास और अंगरक्षक, अस्तबल आदि शामिल हैं, यह हवेली का प्रमुख हिस्सा है।

राजघाट

दिल्ली में स्थित राजघाट भारत की एक बहुत ही महत्वपूर्ण मील का पत्थर है क्योंकि यह हमारे राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी का स्मारक है। दिल्ली में आने वाले लोग अक्सर राजघाट जाते हैं और वहां पर गांधी जी को याद करते हैं। यह पुरानी दिल्ली का एक ऐतिहासिक खाट का नाम हुआ करता था जो यमुना नदी के तट पर स्थित शाहजहाँनाबाद है।

राजघाट

इसके निकट चारदीवारी वाले शहर का राज घाट गेट था। जो यमुना नदी के तट पर राजघाट पर खुलता है। इस प्रकार बाद में सम्मान क्षेत्र को भी राजघाट के रूप में संबोधित किया जाने लगा। यह पूर्वी दिल्ली में घूमने के लिए बहुत ही अच्छी जगहों में से एक है। महात्मा गांधी के अंतिम संस्कार के स्थान का प्रतीक यह एक काले संगमरमर का मंच 31 जनवरी 1948 को हुआ था।

निष्कर्ष

हम ने आप को दिल्ली में घूमने की जगह बताई है। तो आप को हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा है? हम को कमेंट कर के जरूर बताना साथ ही हमारे इस ब्लॉग को फॉलो जरुर करे ताकि आने वाली सभी जानकारी आप को मिल सके।


Share Now

Leave a Reply