क्रेडिट कार्ड क्या होता है ? | Credit Card kya hai

Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Credit Card kya hai : क्रेडिट कार्ड आपको बैंक की तरफ से दी जाने वाली एक सुविधा हैं, जो पहले पैसे खर्च करने और फिर बाद में उसे चुकाने के लिए कुछ समय जरूर देता हैं। एक तरह से आप ये समझ लीजिए कि ये आपको उधार के रूप में पैसे देता है जो आपको तय सीमा के अंतर्गत चुकाना होता हैं। आप इस कार्ड का प्रयोग ऑनलाइन और ऑफलाइन भुगतान दोनों के लिए कर सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड आखिर कैसे काम करता है ?

अब अपको समझ आ गया होगा की Credit Card kya hai है लेकीन ये काम कैसे करता है ये भी जानना जरुरी है।

ये असल में दो लोगों यानी की बैंक और लेनदेन करने वाले (मतलब की आप) इन लोगों के बीच तय किया जाता है। जब आप क्रीडट कार्ड बनवाए है या उसके लिए आवेदन करते हैं तो बैंक ये जरूर चैक करता है की आपको जो भी रुपए उधार के रूप में उपलब्ध करवाए जाएंगे उसे आप चुका भी पाएंगे या नहीं। अगर आप बैंक द्वारा दिए गए उधार रूपयों को चुकाने में समझ हैं तभी बैंक अपको क्रेडिट कार्ड बनवाने की अनुमती देता है। एक ध्यान देने वाली है की आप क्रेडिट कार्ड से जितने रुपए खर्च करते हैं, उनते अपको तय समय में वापस भी करना होता है, नहीं तो अपको जुर्माना भी भरना होगा।

अब आप ये सोच रहें होंगे की अगर कोई रुपए नहीं चुका पता तो क्या उसे मोहलत मिलती हैं। देखिए रुपए चुकाने के लिए अपको 60 दिन यानी 2 महीनों का समय दिया जाता हैं। और नही जुकाते तो रूपए जो खर्च किए हैं वो तो चुकाना ही पड़ेगा साथ ही जुर्माना भी भरना पड़ेगा।

जब भी बिलिंग चक्र (साइकिल) का पूरा होता हैं तभी अपको एक निश्चित रकम का भुगतान करना आवश्यक होता है। अपके क्रेडिट कार्ड से बिल जो भी बनता है और फिर खरीदारी करने के बीच आपको 50 से 60 दिन दिए जाते हैं ताकि आप उधार चूका दें।

अगर आप समय से अपने क्रेडिट कार्ड का बिल चूका देते हैं, तो अपको कोई भी पेनल्टी (दंड या जुर्माना) नहीं लगेगा और अपके क्रेडिट कार्ड का स्कोर बढ़ेगा।

क्रेडिट कार्ड का उपयोग कैसे किया जाता है?

अगर आपको क्रेडिट कार्ड का सही से प्रयोग करना आता है तो यह आपके लिए काफी अच्छा इन्वेस्ट की तरह हो सकता है क्यों की इसमें प्राप्त होने वाले स्कोर से आप अच्छा प्रयोग कर सकते हैं। 50 दिनों तक की ब्याज़-मुक्त अवधि का भी आप लाभ उठा सकते हैं।आप इसके माध्यम से दी तय की गई राशि का भुगतान बैंक को कर देते गई तो आपको अतिरिक्त ब्याज़ का भुगतान नहीं करना होता है।

रियायती अवधि का लाभ उठाएं

रियायती अवधि मतलब छूट दी गई अवधि में 30 दिन की बिलिंग अवधि यानी जो भी भुगतान करने और साथ ही स्टेटमेंट जनरेट यानी बैंक की तरफ से जारी होने वाले स्टेटमेंट जिसमें अपके क्रेडिट कार्ड यूज करने का ब्यौरा होगा तो दोनो तिथि के बीच के 15 से 20 दिन शामिल होते हैं।

इसे ऐसे समझिए की अगर आप बिलिंग की जो अवधि शुरू होने से पहले कोई महंगी खरीदारी की है तो अपको जो छूट के 20 दिन होंगे उसमे आप लाभ उठा सकते हैं।

सही खरीदारी के लिए सही कार्ड का उपयोग करें

क्रेडिट कार्ड के उपयोग को ही समझना जरूरी हैं इसलिए क्रैडिट कार्ड का उपयोग तभी करें जब अपको लगे की जरूरी है। एक उदाहरण से समझते हैं आप आप फ्यूल या कुछ ऐसी महंगी चीज खरीदकर अपनी सैलरी का एक बहुत बड़ा भाग खर्च कर देते हैं ऐसे में आप क्रैडिट कार्ड का प्रयोग कर के सरचार्ज वेवर (अधिभार छूट) का लाभ उठा सकते हैं। लेकिन आप जब किसी ट्रैवल के लिए फ्लाइट या होटल बुक करें तो ट्रैवल कार्ड का प्रयोग करेंगे तो आपको पॉइंट्स मिलते है ऐसे ही जब आप क्रैडिट कार्ड का उपयोग सही जगह करेंगे तो अपको कुछ पॉइंट्स मिलेंगे।

खरीदारी को EMI में बदलें

क्रैडिट का उपयोग आप जब भी कुछ ईएमआई ( EMI ) पे ले तो उसमें भुगतान के लिए इस्तेमाल कर सके हैं।

रिवॉर्ड प्वॉइंट पाने के लिए ऑनलाइन खरीदारी करें

अपको ये जरूर जानना चहिए की आप जब भी ऑनलाइन खरीदारी करते हैं, और उसका भुगतान क्रेडट कार्ड से करते हैं तो अपको 2 गुना ज्यादा रिवॉर्ड प्वॉइंट मिलते हैं। इसलिए ऑनलाइन भुगतान की जानकारी रखिए और इसका लाभ उठाइए।

रिवॉर्ड पॉइंट का इस्तेमाल

आप किसी होटल बुकिंग या ट्रेन फ्लाइट की टिकट में अपने इस रिवॉर्ड पॉइंट का इस्तेमाल कर के छूट पा सकते हैं जो आपकी बचत के लिए अच्छा होगा। कई बार आपको इन पॉइंट्स से कोई रीचार्ज वाउचर और यहां तक कि कैशबैक भी मिल सकता है।

क्रैडिट कार्ड कैसे बनवाएं

जिस भी बैंक का क्रेडिट कार्ड आप बनवाना चाहते हैं सीधे उसी वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते है। सभी बैंक में अप्लाई करने का तरीका अलग होता है।

इसके लिए आप किसी एजेंट से भी क्रैडिट कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसमें फायदा यह होता कि आप एक ही जगह पर कई बैंकों के क्रेडिट कार्ड और उनके फीचर्स देख सकते हैं।

अगर आप ऑनलाइन अप्लाई नहीं करना चाहते तो सीधे बैंक ब्रांच में जाकर भी क्रेडिट कार्ड आवेदन कर सकते हैं।

यह भी पढ़े – Online Business Ideas in Hindi

क्रैडिट कार्ड पहली बार इस्तेमाल करने का तरीका

आप समय से पहले बिल भुगतान करें और बिल भुगतान की अंतिम तिथि याद रखना बहुत जरूरी होता है।

अपने बिल को पूरा भरें। केवल मिनिमम बिल अमाउंट देखकर उसे ही न भरें तो अच्छा होगा वरना कोई रिवॉर्ड प्वॉइंट नहीं प्राप्त होगा।

अपने अकाउंट पर निगरानी रखें, मतलब सारी ट्रांजैक्शन का विशेष ध्यान दे अगर कोई फ्रॉड हुआ है तो तुरंत बैंक को सूचित करें।

जरूरत के हिसाब से चुनें

क्रेडिट कार्ड अप्लाई करते वक्त अपनी सारी जरूरत पर ध्यान दें, जैसे की अगर आप पेट्रोल पर ज्यादा खर्च करते हैं तो इस तरह का कार्ड लें जिससे पेट्रोल खरीदने पर सरचार्ज न लगता हो, और आपको छूट मिले।

अगर शॉपिंग ज्यादा करते है या पसंद है, तो ऐसा कार्ड लें जिसमें किसी भी स्टोर से खरीदारी करने पर डिस्काउंट मिले। इस तरह से रिवॉर्ड या कैशबैक कार्ड भी होते हैं।

निष्कर्ष [ Credit Card kya hai ]

आप को पता लग गया होगा की Credit Card kya hai और यह कैसा काम करता है अगर आप का कोई प्रश्न हो तो आप हमारे Facebook Page पर MSG कर सकते है

Summary
Article Name
Credit Card kya hai
Description
Credit Card kya hai : क्रेडिट कार्ड आपको बैंक की तरफ से दी जाने वाली एक सुविधा हैं, जो पहले पैसे खर्च करने और फिर बाद में उसे चुकाने के लिए कुछ समय जरूर देता हैं।
Author
Publisher Name
योगेश शर्मा

Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply